Sanjay Singh Bail PMLA Supreme Court Fight Against Corruption Lok Sabha Elections 2024 AAP Congress BJP

Date:


Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव 2024 की इस लड़ाई में सभी राजनीतिक दल अपने-अपन हथियार लेकर उतर चुके हैं. एक तरफ जहां भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) भ्रष्टाचार को एक बार फिर मुद्दा बना रही है तो वहीं विपक्षी दल भी इसी मुद्दे को लेकर बीजेपी को घेर रहे हैं. 183 दिन बाद आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह जेल से बाहर आए हैं. इसके मायने क्या हैं? क्या वो I.N.D.I.A गठबंधन का चेहरा बन जाएंगे?

क्योंकि विपक्षी गठबंधन लगातार सत्ताधारी दल पर आरोप लगा रहा है कि सिर्फ विपक्ष के नेताओं को जेल में ठूंसा जा रहा है. सवाल उठा रहा है कि क्या सिर्फ उनके नेताओं को ईडी समन दिए जा रहे हैं, सिर्फ उन्हीं के नेताओं के साथ पूछताछ हो रही है और उन्हें ही दागदार बताने की लगातार कोशिश हो रही है. क्या उनका चेहरा संजय सिंह बन पाएंगे?

आम आदमी पार्टी का खतरा हुआ कम?

आम आदमी पार्टी पर जो विघटना खतरा मंडरा रहा था, वो संजय सिंह के बाहर आने के बाद कुछ हद तक कम होता दिख रहा है. क्योंकि संजय सिंह की पार्टी में अच्छी खासी पैठ है और कार्यकर्ताओं में उनकी धाक है. पंजाब के वो प्रभारी भी रह चुके हैं जहां पर आप सरकार में है. क्या वो आई.एन.डी.आई.ए के मंच पर भी दिखाई देंगे.  

सत्ता और विपक्ष की लड़ाई जारी

एक तरफ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लगातार कह रह हैं कि भ्रष्टाचार के खिलाफ चल रही ये लड़ाई यहीं नहीं रुकेगी, आगे भी जारी रहेगी. वहीं बीजेपी के चाणक्य और गृह मंत्री अमित शाह ने भी यूपी के मुजफ्फरनगर में कहा कि भ्रष्टाचारी जेल में बंद हैं. कहने का मतलब है कि आम आदमी पार्टी के अन्य नेताओं का भी नंबर आ सकता है. जिन नेताओं पर खतरा मंडरा रहा है उनमें आतिशी, सौरभ भारद्वाज और राघव चड्ढा शामिल हैं. अरविंद केजरीवाल की याचिका पर हाई कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा हुआ है.

पीएमएलए में होगा संशोधन?

जिस पीएमएलए के तहत संजय सिंह की गिरफ्तारी हुई थी, उसको लेकर कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि अगर उनकी पार्टी की सरकार बनती है तो पीएमएलए में संशोधन किया जाएगा. ये कानून अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में आया था. इसके बाद इसमें दो बार संशोधन किया जा चुका है. एक बार यूपीए शासनकाल के दौरान और दूसरी बार पीएम मोदी की मौजूदा सरकार में. अब एक बार फिर कांग्रेस इसे संशोधित करने की बात कर रही है.

ये भी पढ़ें: Sanjay Singh Bail: ED को ललकार कर गए थे जेल, लोकसभा चुनाव से पहले बेल, AAP के लिए कौन सी संजीवनी लाए केजरीवाल के संजय


Nilesh Desai
Nilesh Desaihttps://www.TheNileshDesai.com
The Hindu Patrika is founded in 2016 by Mr. Nilesh Desai. This website is providing news and information mainly related to Hinduism. We appreciate if you send News, information or suggestion.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related