election fact check indian army voting fraud claim madhya pradesh jabalpur video

Date:


Indian Army Viral Video Fact Check: लोकसभा चुनाव के लिए तीन चरणों की वोटिंग खत्म हो चुकी है. इस बीच सोशल मीडियो पर वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें भारतीय सेना के जवानों पर मतदान में फर्जीवाड़े के आरोप लगाए जा रहे हैं.

सेना के जवान पर मदान में फर्जीवाड़े का आरोप

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक्स पर @3395k नाम के यूजर ने इस वीडियो 7 मई 2024 को पोस्ट कर कैप्शन में लिखा, “लोकतंत्र खत्म… तानाशाह इतना नीचे गिर गया है कि आर्मी के जवान लगा दिए फर्जी वोट के लिए…. हार का डर… अगर आप अच्छे काम करते तो ये ना करना पड़ता…”

इस वीडियो में एक शख्स आर्मी के जवान पर आरोप लगाता नजर आ रहा है. इस वीडियो में वह शख्स कह रहा है, “आर्मी के जवान बूथ के अंदर प्रचार कर रहे थे कि एक नंबर का बटन दबाकर बीजेपी को विजयी बनाना है. ये लोग फर्जी वोट डलवा रहे थे.” इस वीडियो में एक व्यक्ति स्थान के तौर पर कैंट विधानसभा क्षेत्र बताता हुआ दिख रहा है.

साल 2019 का है यह वीडियो

न्यूज चेकर के पड़ताल में सामने आया है कि यह वीडियो 2019 के लोकसभा चुनाव का है. यह वीडियो मध्य प्रदेश के जबलपुर का है और उस समय भी यह वीडियो इस दावे के साथ वायरल हो रहा था कि भारतीय सेना के जवानों ने बीजेपी के पक्ष में वोट डलवाए. उस समय सेना ने इसका खंडन भी किया था.

इस वीडियो के पड़ताल में जब संबंधित कीवर्ड की मदद से सर्च किया गया तो साल 2019 का एक वीडियो मिला. फेसबुक पर Subhir Rajan Mavunkal नाम के यूजर ने 2 मई 2019 को इस वीडियो को पोस्ट किया था. यहां देखें

मध्य प्रदेश के जबलपुर का है वीडियो

इस वीडियो की रिपोर्ट साल 2019 में इंडियन न्यू इंडियन एक्प्रेस ने प्रकाशित किया था. रिपोर्ट के अनुसार मध्य प्रदेश के जबलपुर में सेना के अधिकारियों ने 29 अप्रैल 2019 को अज्ञात लोगों के खिलाफ सामान्य मतदाताओं के मतदाता पहचान पत्र छीनने की कोशिश करने छावनी में तैनात सैनिक मतदाताओं को रोकने और सेना की छवि खराब करने को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी.

रिपोर्ट में आगे बताया गया कि 29 अप्रैल 2019 को लोकसभा चुनावों के लिए मतदान के दिन ग्रेनेडियर्स रेजिमेंटल सेंटर के सैनिक और उनके परिवार के लोग बूथ नंबर 146 स्वामी विवेकानंद हायर सेकेंडरी स्कूल, कटंगा, जबलपुर में सेना के वाहन से अपना वोट डालने के लिए जा रहे थे. वोट डालने के दौरान कुछ बदमाश आ गए और मतदाता पहचान पत्र छीन लिए.

2019 में सेना दर्ज कराया था मामला

पड़ताल के दौरान 1 मई 2019 को न्यूज एजेंसी एएनआई के अकाउंट पर एक पोस्ट मिला, जिसमें बताया गया था कि जबलपुर में सेना के अधिकारियों ने मतदाता प्रमाण पत्र छीनने और छवि खराब करने को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी.

Disclaimer: This story was initially printed by newschecker and republished by ABP Live Hindi as a part of the Shakti Collective.

ये भी पढ़ें : Election Fact Check: लोकसभा चुनाव के बीच हिंदुओं के खिलाफ नफरत भरे भाषण देते मौलवी का वीडियो वायरल, जानें क्या है सच्चाई




Nilesh Desai
Nilesh Desaihttps://www.TheNileshDesai.com
The Hindu Patrika is founded in 2016 by Mr. Nilesh Desai. This website is providing news and information mainly related to Hinduism. We appreciate if you send News, information or suggestion.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related