Election fact check amit shah fake cropped video viral on social media

Date:


Amit Shah Election Video Fact Check: केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह कह रहे हैं, “मैं कहता हूं कि गारंटी का कोई मतलब नहीं है, ये चुनाव तक बोलते हैं फिर भूल जाते हैं.” सोशल मीडिया यूजर्स वीडियो को शेयर करते हुए दावा कर रहे हैं कि अमित शाह यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए बोल रहे हैं. 

बूम ने अपनी जांच में पाया कि वायरल वीडियो क्रॉप्ड है, जिसे गलत दावे से शेयर किया जा रहा है. मूल वीडियो में अमित शाह कांग्रेस पर निशाना साध रहे थे. 

गौरतलब है कि बीजेपी ने लोकसभा चुनाव 2024 के लिए ‘मोदी की गारंटी’ नाम से घोषणापत्र जारी किया है. 

एक्स पर वीडियो शेयर करते हुए एक यूजर ने लिखा, ‘अमित शाह जी ने ही जुमले का अविष्कार किया था, अब बोल रहे हैं गारंटी का भी कोई मतलब नही है. ये चुनाव तक बोलते हैं फिर भूल जाते हैं. कुल मिलाकर ये प्रधानमंत्री की कुर्सी पर खुद कब्जा करना चाहते हैं. पहले जुमलेबाज के नाम से मोदी को फंसाया, अब गारंटी की भी वाट लगा दी.’

(आर्काइव पोस्ट) 

फैक्ट चेक 

बूम ने फैक्ट चेक के लिए इनविड टूल की मदद से वायरल वीडियो के कीफ्रेम को गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च किया. हमें न्यूज एजेंसी एएनआई के यूट्यूब चैनल पर 15 मई 2024 का अमित शाह के इंटरव्यू का एक वीडियो मिला. वायरल वीडियो इसी से क्रॉप किया गया है. 

वीडियो में 25 मिनट 14 सेकंड पर अमित शाह से कांग्रेस की गांरटी को लेकर सवाल पूछा जाता है कि आपने कांग्रेस की गारंटी को चाइनीज गारंटी कहा है.

इसके जबाव में अमित शाह कहते हैं, “मैं अभी तेलंगाना गया था वहां की महिलाएं राह देख रही हैं कि हमारा 12000 रुपये कब आएगा. वहां के किसान दो लाख रुपये की कर्ज माफी की राह देख रहे हैं. वहां की बच्चियां स्कूटी की राह देख रही हैं. राहुल जी ने वादा किया था उनकी गारंटी थी, आप ढूंढ़िए राहुल जी को.” 

इस बीच अमित शाह से पूछा जाता है, “तब दक्षिण में चुनाव था अब खत्म हो गए, राहुल जी तो अब उत्तर में आ गए हैं.” 

जिसके जबाव में अमित शाह कहते हैं, “दक्षिण में जब चुनाव थे तब तो जाते थे, इसलिए मैं कहता हूं कि उनकी गारंटी का कोई मतलब नहीं है, यह चुनाव तक बोलते हैं और फिर भूल जाते हैं.”

क्या निकला निष्कर्ष?

सोशल मीडिया पर केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसे लेकर दावा किया जा रहा है कि उन्होंने चुनावी वादों को बेमतलब कहा. पड़ताल में यह पाया गया कि वायरल वीडियो के एडिटेड है. अमित शाह के फूल इंटरव्यू में से इस भाग को काटकर गलत तरीके से फैलाया जा रहा है. 

Disclaimer: This story was initially revealed by Boom Live and republished by ABP Live Hindi as a part of the Shakti Collective.

ये भी पढ़ें : Election Fact Check: क्या सच में बीजेपी ने प्रशांत किशोर को नियुक्त किया अपना प्रवक्ता, जानिए क्या है वायरल लेटर का सच


Nilesh Desai
Nilesh Desaihttps://www.TheNileshDesai.com
The Hindu Patrika is founded in 2016 by Mr. Nilesh Desai. This website is providing news and information mainly related to Hinduism. We appreciate if you send News, information or suggestion.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Share post:

Subscribe

Popular

More like this
Related

Indian players are sporting black armbands in Super 8 clash vs Afghanistan, here’s why

Team India are carrying black armbands in the...

Pakistan captain Babar Azam accused of ‘match-fixing’ due to…

Babar and his workforce have been beneath intense...

Over 1000 individuals, including 90 Indians, die in Mecca amid extreme heatwave

Due to the extreme heatwave, temperatures have mounted...