अनुच्‍छेद 370 की छाया से मुक्‍त होने के बाद जम्‍मू-कश्‍मीर और लद्दाख में लहराया तिरंगा, नहीं हुई हिंसा

0
91

जम्‍मू/श्रीनगर: अनुच्‍छेद 370 में परिवर्तन और 35ए  को हटने के बाद पहली बार जम्‍मू कश्‍मीर में तिरंगा फहराया गया. जम्‍मू और लद्दाख में तो पहले ही हालात शांतिपूर्ण थे, लेकिन 15 अगस्‍त को घाटी में बारामूला, शोपियां, गांदरबल और पुलवामा जैसे इलाकों में भी तिरंगा शान से लहराया गया. इस दौरान यहां कहीं से कोई हिंसा की खबर नहीं आई.

जम्‍मू कश्‍मीर के मुख्‍य सचिव रोहित कंसल ने प्रेस कॉन्‍फ्रेंस कर बताया कि घाटी में सभी जगह पर शान्ति से 15 अगस्‍त का सेलिब्रेशन हुआ. सभी ऑफिसेस में शान्ति और पूरे जोश से स्‍वतंत्रता दिवस मनाया गया. पूरा दिन शान्ति से गुजरा. कश्मीर, जम्मू और लद्दाख में दुर्घटना की कोई भी खबर नहीं है.

कंसल ने बताया, गुरुवार को श्रीनगर से शाम 7.15 बजे दिल्‍ली के लिए विमान ने भी उड़ान भरी. इसमें 150 यात्री सवार थे. बता दें कि श्रीनगर एयरपोर्ट अंतरराष्‍ट्रीय एयरपोर्ट है. रोहित कंसल ने बताया वैसे तो पूरे कश्‍मीर में स्‍वतंत्रता दिवस मनाया गया, लेकिन सबसे बड़ा समारोह श्रीनगर के शेर ए कश्‍मीर स्‍टेडियम में हुआ. यहां पर जम्‍मू-कश्‍मीर के राज्‍यपाल सत्‍यपाल मलिक ने ध्‍वजारोहण किया.

लद्दाख के भाजपा सांसद जोयांग त्सरिंग नामग्याल ने स्थानीय पार्टी कार्यालय में तिरंगा फहराते हुए इसे लद्दाख का पहला स्वतंत्रता दिवस बताया.

नामग्याल (34) ने हाल ही में जम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद-370 को रद्द कर लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाने पर संसद में अपना ओजस्वी भाषण दिया था, जिसने उनके प्रशंसकों समेत तमाम देशवासियों का दिल जीत लिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here