RSS नेता इंद्रेश कुमार ने ओवैसी को बताया ‘मेंटल केस’, जानिए क्या है पूरा मामला

0
23

नई दिल्ली: राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरसंघचालक मोहन भागवत के हिंदू राष्ट्र वाले बयान पर ओवैसी के पलटवार पर RSS के राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. दरअसल असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) ने मोहन भागवत के बयान पर कहा था कि भारत ना भी हिंदू राष्ट्र था, ना है और ना बनेगा. इस पर राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संयोजक इंद्रेश कुमार (Indresh Kumar) ने कहा है कि ओवैसी मेंटल केस है. उन्होंने कहा कि, ‘भारत से सुंदर देश नहीं है, क्योंकि यहां का मूल स्वभाव हिन्दू है. भारतीय है, हिंदुस्तानी है. ओवैसी मेन्टल केस है.’

दरअसल इंद्रेश कुमार का यह बयान ओवैसी के उस ट्वीट की प्रतिक्रिया के रूप में आया है जिसमें उन्होंने मोहन भागवत पर निशाना साधा था. 

ओवैसी ने रविवार (13 अक्टूबर) को अपने ट्विटर अकाउंट से भागवत का बयान शेयर करते हुए लिखा, ‘मोहन भागवत भारत को हिंदू राष्ट्र बनाकर यहां से मेरा इतिहास नहीं बदल सकते हैं. यह नहीं चलेगा. वह इस बात को हम पर नहीं थोंप सकते कि हमारी संस्कृतियां, आस्थाएं, पंथ और व्यक्तिगत पहचान सब हिंदू धर्म से जुड़ी हैं. भारत ना कभी हिंदू राष्ट्र था, ना है और ना कभी बनेगा इंशा अल्लाह.’

ओवैसी ने अपने अगले ट्वीट में लिखा था, ‘इस कुछ फर्क नहीं पड़ता कि भागवत हमें कैसे विदेशी मुस्लिमों के साथ जोड़ते हैं, यह किसी भी तरह से मेरी भारतीयता को कम नहीं करेगा. हिंदू राष्ट्र का मतलब हिंदू प्रभुत्व, यह हमारे लिए अस्वीकार्य है.  हम खुश है या नहीं इसका पैमाना संविधान के आधार पर होगा ना कि बहुमत की उदारता पर.

यह भी पढ़ेंः ओवैसी ने मोहन भागवत से कहा, ‘जम्हूरियत का सेहरा तो आंबेडकर को जाता है’

संघ प्रमुख भागवत के कथन को किसी ने ट्विटर पर शेयर किया था. इस कथन में लिखा था. ‘हम हिंदुओं का देश हैं। हम हिंदू राष्ट्र हैं। हिंदू किसी पूजा का नाम नहीं, किसी भाषा का नाम नहीं, किसी प्रांत प्रदेश का नाम नहीं। हिंदू एक संस्कृति का नाम है। जो भारत में रहने वाली सबकी सांस्कृतिक विरासत है।- संघ प्रमुख मोहन भागवत’

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here