INDvSA: भारत ने पारी और 137 रन से जीता पुणे टेस्ट, सीरीज पर जमाया कब्जा

    0
    7

    भारत बनाम दक्षिण अफ्रीका – फोटो : अमर उजाला

    ख़बर सुनें

    पुणे के एमसीए स्टेडियम में खेले जा रहे दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय टीम ने अपनी पकड़ मजबूत कर ली है। तीसरे दिन शनिवार को गेंदबाजों ने भी जोरदार खेल दिखाते हुए दक्षिण अफ्रीका को महज 275 रन पर समेट दिया। पहली पारी के आधार पर भारतीय टीम को 326 रन की बढ़त मिली। चौथे दिन टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने मेहमान टीम को फॉलोऑन दिया है। अपनी दूसरी पारी में दक्षिण अफ्रीका ने समाचार लिखे जाने तक 62 ओवर में आठ विकेट के नुकसान पर 176 रन बना लिए हैं। रबाडा (0) और महाराज (17) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद हैं।

    विज्ञापन

    दिन की दूसरी ही गेंद पर इशांत शर्मा ने भारत को पहली सफलता दिलाई। इशांत ने एडन मार्करम को अपना शिकार बनाया। इशांत की गेंद पर मार्करम एलबीडब्ल्यू आउट हुए । बल्लेबाज ने अपने जोड़ीदार एल्गर से रिव्यू लेने के लिए बातचीत की, लेकिन रिव्यू नहीं लिया। हालांकि रिप्ले में गेंद स्टंप से ऊपर जाती हुई दिख रही थी।

    इशांत के बाद उमेश यादव ने भारत को दूसरी सफलता दिलाई। छठें ओवर की चौथी गेंद पर उमेश यादव ने ब्रायन को पवेलियन भेजा। उमेश की गेंद पर साहा ने शानदार ड्राइव लगाकर कैच लपका। ब्रायन आठ रन ही बनाकर पवेलियन लौट गए।

    आर अश्विन ने फाफ डुप्लेसी को आउट कर भारत को बड़ी सफलता दिलाई। अश्विन की गेंद पर डुप्लेसी ने शॉट खेलने की कोशिश की और ऋद्धिमान साहा ने एक बार फिर शानदार कैच लपक डुप्लेसी की पारी का अंत किया। 54 गेंदों में पांच रन बनाकर डुप्लेसी आउट हुए । अश्विन ने इस सीरीज में उन्हें तीसरी बार आउट किया।

     25वें ओवर की दूसरी गेंद पर एल्गर अश्विन की गेंद पर मिड ऑफ की ओर खेलने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन उमेश यादव ने भागते हुए कैच लपक डीन एल्गर की पारी का अंत किया। वह 72 गेंदों में 48 रन बनाकर आउट हुए।

    रवींद्र जडेजा ने 29वें ओवर की दूसरी गेंद पर क्विंटन डीकॉक (5) को बोल्ड कर दिया। लंच के बाद भारत को पहली सफलती मिली और दक्षिण अफ्रीका की आधी टीम पवेलियन लौट चुकी है। भारत जीत से केवल पांच विकेट दूर है।

    43वें ओवर की पहली गेंद पर रवींद्र जडेजा की गेंद पर बावुमा एलबीडब्ल्यू होने से बचे, लेकिन अगली ही गेंद पर वह स्लिप में अजिंक्य रहाणे को कैच थमा बैठ। वह 63 गेंदों में 38 रन बनाकर वह वापस लौटे।

    पहली पारी की ही तरह वर्नोन फिलेंडर और केशव महाराज क्रीज पर जम गए थे। दोनों बल्लेबाजों ने भारत के जीत के इंतजार को बढ़ाया, लेकिन

     और भारतीय गेंदबाजों को परेशान कर दिया है. दोनों के बीच 110 गेंदों में 51 रन की साझेदारी हो चुकी है. 

    विज्ञापन
    आगे पढ़ें

    दक्षिण अफ्रीका की बल्लेबाजी

    विज्ञापन

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here