सिंधु ने रचा इतिहास: घरवालों ने मनाया जश्न, PM मोदी बोले- आपने फिर से भारत को गौरवान्वित किया

0
36

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप में ऐतिहासिक गोल्ड मेडल जीतने पर भारतीय बैडमिंटन स्टार पी.वी. सिंधु (PV Sindhu) को बधाई दी है. इतिहास रचने के मौके पर सिंधु के हैदराबाद स्थित घर पर भी जश्न का माहौल बन गया. घरवालों ने बेटी की इस उपलब्धि की खुशी में एक-दूसरे का मुंह मीठा कराकर खुशियां बांटीं.

दरअसल, ओलंपिक सिल्वर मेडल विजेता पी.वी. सिंधु ने रविवार को स्विट्जरलैंड के बासेल में बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन वर्ल्ड चैंपियनशिप-2019 के फाइनल में दुनिया की चौथे नंबर की खिलाड़ी जापान की नोजोमी ओकुहारा को सीधे गेमों में 21-7, 21-7 से हराकर गोल्ड मेडल जीता.


पीवी सिंधु की मां पी. विजया ने कहा कि हम बहुत खुश हैं, हम उस स्वर्ण पदक की प्रतीक्षा कर रहे थे. बेटी ने इसके लिए कड़ी ट्रेनिंग की.

पीएम मोदी का ट्वीट
सिंधु की इस ऐतिहासिक जीत के बाद मोदी ने ट्वीट किया, “प्रतिभा की धनी पी.वी. सिंधु ने एक बार फिर भारत को गौरवान्वित किया है. बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण जीतने के लिए उन्हें बधाई.” मोदी ने लिखा, “बैडमिंटन के प्रति उनका लगन और समर्पण प्रेरणादायक है. पी.वी सिंधु की सफलता खिलाड़ियों की पीढ़ियों को प्रेरित करेगी.”

कोविंद ने दी शुभकामनाएं
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भारत की अग्रणी महिला बैडमिंटन खिलाड़ी पी.वी. सिंधु को बीडब्ल्यूएफ बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में ऐतिहासिक स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई दी. सिंधु की जीत के बाद राष्ट्रपति ने ट्वीट किया, “बीडब्ल्यूएफ वल्र्ड चैम्पियनशिप जीतने के लिए सिंधु को बधाई. यह पूरे देश के लिए गर्व का क्षण है.”

कोविंद ने लिखा, “बैडमिंटन कोर्ट पर आपके जादुई प्रदर्शन, कड़ी मेहनत और दृढ़ता से लाखों लोग रोमांचित और प्रेरित होते हैं. विश्व चैम्पियन! भविष्य के सभी मुकाबलों के लिए मेरी शुभकामनाएं.”

वहीं, इस गोल्‍ड मेडल को जीतने वाली भारत की पहली महिला खिलाड़ी सिंधु ने अपनी जीत को मां को समर्प‍ित किया. ये जीत इसलिए भी खास है, क्‍योंकि 25 अगस्‍त को ही उनकी मां विजया जन्‍मदिन भी है. उन्‍होंने जीत के बाद गोल्‍ड उन्‍हें समर्पित करते हुए कहा- हैप्‍पी बर्थडे मॉम.

इस जीत के साथ ही सिंधु विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गई हैं. वह इससे पहले बैडमिंटन विश्व चैम्पियनशिप में वर्ष 2017 और 2018 में रजत तथा 2013 व 2014 में कांस्य पदक जीत चुकीं हैं और उनके पांच पदक हो गए हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here