श्रीनगर में व्यापारियों को लगभग 1000 करोड़ की चपत, प्रतिदिन हो रहा करीब 175 करोड़ रुपये का नुकसान

    0
    23

    न्यूज डेस्क, अमर उजाला, श्रीनगर Updated Mon, 12 Aug 2019 03:31 AM IST

    बकरे खरीदने के लिए लगी भीड़ – फोटो : ani

    ख़बर सुनें

    जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 की समाप्ति व राज्य के पुनर्गठन के बाद से सिर्फ शीतकालीन राजधानी श्रीनगर में व्यापारी समुदाय को लगभग एक हजार करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। कश्मीर चैंबर ऑफ  कॉमर्स एंड इंडस्ट्री (केसीसीआई) के एक सदस्य के अनुसार, पाबंदियों के चलते कश्मीर में व्यापार का औसतन 175 करोड़ रुपये प्रतिदिन का नुकसान हो रहा है।  अधिकारियों द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों के कारण जीवन पूरी तरह अस्त-व्यस्त हो गया है। 

    विज्ञापन

    बकरीद के त्योहार पर समृद्ध व्यापार की आस लगाए लोगों में सबसे ज्यादा नुकसान पशुओं का व्यवसाय करने वालों के साथ बेकरी वालों को व्यापक पैमाने पर आर्थिक चोट पहुंची है। क्योंकि लोग खरीदारी करने के लिए अपने घरों से बाहर नहीं आ पा रहे हैं। साथ ही बेकरी मालिकों को लगभग 200 करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ा है, क्योंकि उनके उत्पादों की लाइफ कम होती है और घाटी में पिछले एक सप्ताह से प्रतिबंध लागू हैं।

    ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीरः आज कुछ ऐसे हैं घाटी के हालात, बहुत कुछ बयां कर रही हैं यह 10 तस्वीरें, यही है सच

    बेकरी वालों को झटका
    शहर के करण नगर इलाके के एक बेकरी व्यवसायी ने बताया कि अकेले उसका लगभग एक करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। उसने बताया कि 50 लाख रुपये के कीमत के सामान की सूची उसके पास है। उस पर 20 लाख रुपये की लागत अतिरिक्त है। चूंकि बिक्री का कोई साधन नहीं बचा है, इसलिए व्यापार के लिए लिया गया धन उसके व्यवसाय की कमर तोड़ देगा। हालांकि शहर के सिविल लाइंस क्षेत्र में कुछ बेकरी चल रही थीं परंतु, शहर के आउटलेट्स को खोलने की इजाजत अधिकारियों की ओर से नहीं मिली। 

    विज्ञापन
    आगे पढ़ें

    पुंछ का व्यापारी सिर्फ 15 बकरियां ही बेंच पाया

    विज्ञापन

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here