मध्य प्रदेश: उफनते नदी-नालों में चार की मौत, सेल्फी लेते वक्त मां-बेटी तो मोटरसाइकिल समेत दो बहे

    0
    7

    ख़बर सुनें

    मध्य प्रदेश के अधिकतर स्थानों में पिछले 24 घंटों में जमकर बारिश हुई, जिसके चलते नदी-नाले उफान पर हैं। उफनते नदी-नालों के कारण हुए हादसों में बुधवार को मां-बेटी सहित चार लोगों की बहने से मौत हो गई।

    विज्ञापन

    मंदसौर जिले में तीन लोगों की नालों में बहने से मौत हुई है, जबकि एक व्यक्ति की बैतूल जिले में रोझड़ा नदी में बहने से हुई।

    वहीं, भारी बारिश के कारण प्रदेश के कई जगहों पर सड़क यातायात अवरूद्ध होने के साथ-साथ कई निचले रहवासी इलाके जलमग्न हो गए, जिससे सामान्य जनजीवन प्रभावित हुआ।

    मंदसौर के पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी ने ‘भाषा’ को बताया कि मंगलवार रात से हो रही भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। गांधीनगर में शासकीय महाविद्यालय मंदसौर के प्रोफेसर आर डी गुप्ता अपनी पत्नी बिंदु (42) और पुत्री आकृति (20) के साथ आज (बुधवार) सुबह पानी का दृश्य देखने मंदसौर में गांधीनगर कॉलोनी के नजदीक स्थित उफनते नाले में गये और वहां जाकर सेल्फी लेने के चक्कर में पाव फिसलने से तीनों बह गए। 

    उन्होंने कहा कि प्रोफेसर गुप्ता को वहां मौजूद लोगों ने बचा लिया, लेकिन उसकी पत्नी बिंदु और पुत्री आकृति की बहने से मौत हो गई। दोनों के शवों को कुछ दूरी पर बरामद कर लिया गया है।

    वहीं, मंदसौर के कलेक्टर मनोज पुष्प ने बताया कि एक अन्य घटना में मंदसौर जिले के ग्राम बड़वन में उफनते नाले को मोटरसाइकिल पर सवार होकर पार करते वक्त दूध बेचने वाला बापूलाल धाकड़ आज (बुधवार) सुबह अपनी मोटरसाइकिल सहित बह गया। उसका शव करीब एक किलोमीटर दूर जाकर मिला।

    वहीं, तहसीलदार लवीना घागरे ने बताया कि बैतूल जिला मुख्यालय से करीब 35 किलामीटर दूर स्थित रोझड़ा नदी पर बने हुए पुल के ऊपर से पानी बह रहा था। इस दौरान ग्राम फोंगरया मंडई निवासी अमरलाल उईके (22) अपनी मोटरसाइकिल पर सवार होकर बुधवार की सुबह इस पुल को पार करने लगा, लेकिन बहाव तेज होने की वजह से वह वाहन सहित नदी में बह गया। 

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here