फ्रांस में पेंशन सुधार के खिलाफ ‘महाहड़ताल’, 90 फीसदी रेलवे और मेट्रो सेवाएं ठप

    0
    40

    ख़बर सुनें

    फ्रांस में पेंशन सुधार के विरोध में बुधवार को पेरिस समेत अनेक शहरों में लाखों कर्मचारियों ने विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिए जिसके बाद राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों ने सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए हैं। इस प्रदर्शन का असर रेलवे सेवाओं पर भी पड़ा है। इसके  विरोध में देश में रेल सेवाएं लगभग ठप हो गईं हैं।

    विज्ञापन

    82 फीसदी ड्राइवर हड़ताल पर हैं और कम से कम 90 फीसदी क्षेत्रिय ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। मीडिया के मुताबिक, हड़ताल आगे भी जारी रह सकती है। पेरिस में 16 में से 11 मेट्रो लाइनें बंद हैं। इस कारण यात्रियों को बाइक और स्कूटर किराए पर लेना पड़ रहे हैं। स्कूल बंद हो गए हैं। लोगों का कहना है कि मैक्रों का नया पेंशन प्रावधान बेहद खर्चीला और भेदभाव पूर्ण है।

    पैरिस में कई जगहों पर पुलिस को आंसू गैस का इस्तेमाल करना पड़ा। कई जगह पर प्रदर्शनकारियों ने वाहनों को आग लगा दी। देशभर से सरकारी कर्मचारी पैरिस में आ गए और इस प्रावधान को वापस लेने की मांग कर रहे हैं। देश में रेल सेवाएं भी ठप हो गई हैं।

    दरअसल मैक्रों देश में यूनिवर्सल पेंशन स्कीम लागू करना चाहते थे जिससे निजी और सरकारी कर्मचारियों को रिटायरमेंट के बाद बराबर पेंशन मिले। लेकिन कर्मचारियों का कहना है कि इस प्रावधान में खामी है जिसके चलते 62 साल में रिटायर होने के बाद भी उन्हें काम करना पड़ेगा।

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here