पूर्व PM अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि आज, ‘सदैव अटल’ पर राष्ट्रपति-पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि

0
17

नई दिल्लीः देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की आज पहली पुण्यतिथि है. इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह सहित भाजपा के कई दिग्गज नेता स्मृति स्थल ‘सदैव अटल’ पर पहुंचे और अटल जी को श्रद्धांजलि अर्पित की. बता दें भारत रत्न से सम्मानित और देश के पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी का 16 अगस्त 2018 को 93 वर्ष की आयु में निधन हो गया था. जिसके बाद बीजेपी ने उनकी अस्थियों को देश की 100 नदियों में प्रवाहित किया था और इसकी शुरुआत हरिद्वार में गंगा में विसर्जन के साथ हुई थी.

बता दें दिल्ली में स्थित पूर्व प्रधानमंत्री के स्मृति स्थल ‘सदैव अटल’ पर अटल बिहारी वाजपेयी की पुण्यतिथि के अवसर पर बड़ा कार्यक्रम किया जा रहा है, जिसके चलते अटल बिहारी वाजपेयी की बेटी नमिता कौल भट्टाचार्य, पोती निहारिका समेत परिवार के अन्य सदस्य पूर्व प्रधानमंत्री के स्मृति स्थल पहुंचे हैं, जहां भजन का कार्यक्रम भी चल रहा है. यहां उन्हें अभी तक राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह सहित कई दिग्गज नेताओं द्वारा उन्हें श्रद्धांजलि दी जा रही है.

देखें लाइव टीवी

भारत रत्न से सम्मानित पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की पहली पुण्यतिथि के अवसर पर ज्ञान फाउंडेशन अतुल्य अटल अटल नीति-राष्ट्र नीति पर एक कार्यक्रम का आयोजन कर रहा है. जिसमें केंद्रीय रेलवे मंत्री पीयूष गोयल, केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ जीतेंद्र सिंह और राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भारतीय जनता पार्टी श्री श्याम जाजू मुख्य अतिथि के रूप में शामिल होंगे. कार्यकर्म का आयोजन डेप्युटी स्पीकर हॉल, कॉन्स्टिटूशन क्लब ऑफ इंडिया, नई दिल्ली में किया जा रहा है. साथ ही साथ कार्यक्रम के अंत में अब से लेकर अटल जी की जयंती (25 दिसम्बर) तक ज्ञान फाउंडेशन द्वारा किए जाने वाले विभिन्न कार्यक्रमों की जानकारी दी जाएगी.

https://i2.wp.com/www.thehindupatrika.com/wp-content/uploads/2019/08/e0a4aae0a582e0a4b0e0a58de0a4b5-pm-e0a485e0a49fe0a4b2-e0a4ace0a4bfe0a4b9e0a4bee0a4b0e0a580-e0a4b5e0a4bee0a49ce0a4aae0a587e0a4afe0a580.jpg?resize=696%2C391

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने ट्वीट करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद करते हुए श्रद्धांजलि दी और लिखा कि, ‘अटल जी भारतीय लोकतंत्र की उत्कृष्टतम परंपराओं के प्रेरणा पुंज थे. लोकतंत्र की सात्विक मर्यादाओं के मूर्तरूप थे. देश अपने मानवतावादी युगदृष्टा नेता, सहृदय और ओजस्वी शब्दशिल्पी को कृतज्ञतापूर्वक स्मरण करता रहेगा. पुण्यात्मा को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि.’

‘अटल युग’ से ‘मोदी राज’ तक ‘राजनीति की सुषमा’, जानें उनका राजनीतिक सफर

बता दें वाजपेयी पहली बार 1996 में प्रधानमंत्री बने थे, लेकिन इस दौरान सिर्फ 13 दिनों तक ही उनकी सरकार चल सकी थी. इसके बाद वह दोबारा 1998 में प्रधानमंत्री बने, लेकिन इस बार सिर्फ 13 महीनों तक उनकी सरकार चली. अंत में एक बार फिर 1999 में वाजपेयी तीसरी बार प्रधानमंत्री बने और अपना 5 साल का कार्यकाल पूरा किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here