पी चिदंबरम का विवादित बयान, ‘अगर कश्मीर हिंदू बाहुल्य होता तो BJP नहीं हटाती अनुच्छेद 370’

0
55

चेन्नईः जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने को लेकर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व गृह मंत्री पी चिदंबरम ने पीएम मोदी और बीजेपी पर निशाना साधा है. पी चिदंबरम ने आरोप लगाया है कि जम्मू कश्मीर में मुस्लिम ज्यादा है इसलिए केंद्र सरकार ने वहां से अनुच्छेद 370 के ज्यादतर प्रावधानों को हटाया है. चेन्नई में कार्यक्रम में बोलते हुए चिदंबरम ने कहा, ‘यदि जम्मू कश्मीर हिंदू बहुल राज्य होता तो बीजेपी इस राज्य का विशेष दर्जा नहीं छीनती. लेकिन क्योंकि कश्मीर में मुस्लिम बहुमत है, इसलिए उन्होंने इसे निरस्त कर दिया.’

 केंद्र सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 और 35 ए को खत्म कर दिया है. सरकार ने लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों इसे पास करवा लिया है और जम्मू कश्मीर व लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित कर दिया है

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आर्टिकल 370 हटाने के फैसले पर रविवार (11 अगस्त) को कहा, ‘जम्मू कश्मीर और लद्दाख का विकास होगा. यहां के नेता अपने लोगों को झूठे सपने दिखाते थे, कभी आज़ादी का, कभी स्वराज्य का, कभी पाकिस्तान का और उन्हें झूठे सपने में रखते थे. पहले यहां भ्रष्टाचार था, यहां के नेताओं के दिल्ली, मुम्बई, लंदन, दुबई में मकान हैं. गरीब आदमी को कुछ नेताओं ने आर्टिकल 370 दिखा रखा था बस. मैंने राज्य में 52 डिग्री कॉलेज दिए. पुलिस, एसपीओ की भर्ती करा रहे हैं. सरकार में जितनी भी जगह है, सभी पदों पर नौकरी के आदेश मुख्य सचिव को दिए हैं. ताकि जम्मू कश्मीर के युवाओं को नौकरी मिल सके.’

उन्होंने कहा कि जम्मू कश्मीर में निवेश के लिए पूरे देश से प्रस्ताव आ रहे हैं. मार्च में जम्मू कश्मीर में इन्वेस्टर्स समिट का आयोजन होगा. जम्मू कश्मीर स्वर्ग है. ये देश का सबसे सुंदर और बढ़िया राज्य होगा. भ्रष्टाचारी नेताओं पर सत्यपाल मलिक ने कहा कि ये जो दो परिवार हैं, लोगों को इनसे शिकायत थी कि हमारी कोई सुनवाई नहीं है. इनकी वजह से नौकरियों में भ्रष्टाचार था. मैंने जम्मू कश्मीर बैंक में नियुक्तियों की गड़बड़ी का खुलासा किया. केन्द्र सरकार से अनुरोध करता हूं और चिट्ठी भी लिखूंगा कि यहां के उन सियासी परिवारों की संपत्ति की जांच की जाए, जिन्होंने अवैध संपत्ति बनाई है. तभी जम्मू कश्मीर के साथ न्याय होगा. केन्द्र सरकार अवैध संपत्ति, टेरर फ़ंडिंग, आदि की जांच करें. प्रशासन की एंटी करप्शन ब्यूरो कार्यवाई कर रहा है. कई जांचें चल रही हैं, लोग जेल जाएंगे. अगर केन्द्रीय एजेंसियां जांच करेंगी तो ये कश्मीर के ये परिवार जेल जाएंगे.

जम्मू कश्मीर के मौजूदा हालात पर सत्यपाल मलिक ने कहा कि लोगों को समझ नहीं आ रहा है कि इसका फायदा क्या है. महबूबा मुफ़्ती ने प्रोपेगेंडा फैलाया कि लोगों की चीज़ें छीन रही हैं. लोग धीरे धीरे समझेंगे कि इस कदम के फैसले क्या होंगे. हम लोगों को समझा रहे हैं. पूरे राज्य में शांति हैं. 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here