नक्सली हमले में शहीद जवान की राइफल को कॉन्स्टेबल बहन ने बांधी राखी, लिया बदला लेने का संकल्प

    0
    55

    ख़बर सुनें

    रक्षाबंधन के मौके पर छत्तीसगढ़ पुलिस में कार्यरत कॉन्स्टेबल बहन ने नक्सली हमले में शहीद हुए अपने भाई की राइफल को राखी बांधी। कॉन्स्टेबल कविता कौशल, अक्टूबर 2018 में नक्सली हमले में शहीद हुए सहायक कांस्टेबल राकेश कौशल की बहन है। राकेश अरणपुर में एक नक्सली हमले में दो अन्य पुलिसकर्मी और एक कैमरापर्सन के साथ शहीद हो गए थे। 

    विज्ञापन

    राकेश के शहीद होने के बाद उसकी बहन कविता को अनुकंपा के आधार पर नौकरी मिली। दिलचस्प बात यह है कि कविता को उसके भाई की ही राइफल आवंटित की गई। कांस्टेबल कविता कौशल ने कहा, ‘मुझे अपने भाई के स्थान पर छत्तीसगढ़ पुलिस में नौकरी मिली। मैंने विभाग से अनुरोध किया था कि मैं उसी बंदूक का उपयोग करना चाहती हूं जो मेरे भाई सेवा में इस्तेमाल करते थे। नक्सली कायर होते हैं। मैं दंतेश्वरी सेनानियों से जुड़ना चाहती हूं और मेरे भाई की मौत का बदला लेना चाहती हूं।

    एसपी अभिषेक पल्लव ने इस संबंध में बताया कि कविता को अनुकंपा के आधार पर नौकरी दी गई। पहले उसने कार्यालय के काम के लिए अनुरोध किया था, लेकिन अन्य महिला कमांडो को देखकर उसने ऑपरेशन में शामिल होने की इच्छा व्यक्त की। उसने अपने भाई की राइफल के लिए भी अनुरोध किया।

    विज्ञापन
    आगे पढ़ें

    विज्ञापन

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here