कश्मीर मामले पर चीन ने यूएन से की चर्चा करने की अपील, कुरैशी का पीएम मोदी पर निशाना

    0
    44

    इमरान खान और शी जिनपिंग – फोटो : File Photo

    ख़बर सुनें

    भारत के जम्मू कश्मीर पर लिए फैसले के बाद से ही पाकिस्तान बौखलाया हुआ है। पाकिस्तान ने लगातार भारत के फैसले का विरोध किया और अपने चीनी दोस्त से इस मुद्दे पर संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक बुलाने को कहा। चीन ने जम्मू कश्मीर पर पाकिस्तान की शिकायतों को सुने जाने की मांग की है। जानकारी के मुताबिक इस मामले पर 16 अगस्त को यूएनएससी में बैठक हो सकती है।

    विज्ञापन

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक चीन की ओर से आधिकारिक तौर पर पोलैंड को खत लिखा गया है। बता दें खत पोलैंड को इसलिए लिखा गया है क्योंकि वह अगस्त महीने का काउंसिल चेयरमैन है। यही कारण है कि बैठक बुलाने के लिए उसकी मंजूरी जरूरी है। 

    इस मामले पर संयुक्त राष्ट्र के एक अधिकारी का कहना है कि चीन की इस मांग पर बात हो रही है। इससे पहले चीन की तरफ से इस मसले पर भारत-पाकिस्तान को शांति बरतने की बात कही गई थी। इस मुद्दे पर बीते दिनों पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी संयुक्त राष्ट्र को चिट्ठी लिखी थी। उन्होंने चीन जाकर वहां के विदेश मंत्री से मुलाकात की थी। पाकिस्तान का आरोप था कि भारत के द्वारा लिया गया फैसला संयुक्त राष्ट्र के नियमों का उल्लंघन है।

    हालांकि पाकिस्तान ने इस मसले को कई देशों के सामने उठाया लेकिन हर किसी ने इसे भारत का आंतरिक मामला बताया है। साथ ही पाकिस्तान से द्विपक्षीय तौर पर काम करने को कहा। संयुक्त राष्ट्र ने भी इस मसले को भारत का आंतरिक मसला बताया था। 

    गौरतलब है कि सरकार ने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटाकर उसे दो भागों में विभाजित कर केंद्र शासित प्रदेश बना दिया है। वहीं एक अन्य केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख को बनाया गया है। 

    भारत-पाक के बीच मोदी सबसे बड़ा रोड़ा : शाह महमूद

    वहीं, पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर सवाल उठाते हुए उन्हें भारत और पाकिस्तान के बीच सबसे बड़ा रोड़ा बताया। कुरैशी ने कहा कि मोदी ने चुनाव जीतने के लिए कश्मीर को दांव पर लगा दिया। फरवरी में चुनाव जीतने के लिए मोदी ने खूब तनाव बढ़ाया है। उन्होंने कहा कि यूएनएससी में कश्मीर मुद्दे पर बातचीत से भारत असहज है और बैठक का विरोध कर रहा है। 

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here